क्या क्या करें #पूर्व #दिशा की ओर

क्या क्या करें #पूर्व #दिशा की ओर

क्या क्या करें #पूर्व #दिशा की ओर

  • #घर की बैठक में जहां घर के #सदस्य आमतौर पर एकत्र होते हैं, वहां बांस का #पौधा लगाना चाहिए। पौधे को बैठक के #पूर्वी कोने में गमले में रखें।
  • नुकीले #औजार जैसे #कैंची, #चाकू आदि कभी भी इस प्रकार नहीं रखे जाने चाहिए कि उनका नुकीला सिरा घर में रहने वालों की तरफ हो। ये नुकीले सिरे #स्वास्थ्य के लिए #हानिकारक होते हैं ।
  • #शयनकक्ष में पौधा नहीं रखना चाहिए, किन्तु #बीमार व्यक्ति के कमरे में ताजे #फूल रखने चाहिए। इन फूलों को #रात को कमरे से हटा दें।
  • मानसिक #शांति प्राप्त करने के लिए #चंदन आदि से बनी #अगरबत्ती जलाएं। इससे #मानसिक #बेचैनी कम होती है।
  • तीन हरे पौधे #मिट्टी के #बर्तनों में घर के अंदर पूर्व दिशा में रखें। ध्यान रहे कि #फेंगशुई में #बोनसाई और #कैक्टस को हानिकारक माना जाता है। क्योंकि, बोनसाई #प्रगति में बाधक एवं कैक्टस हानिकारक होता है।
  • #परिवार की #खुशहाली और #स्वास्थ्य के लिए पूरे परिवार का #चित्र लकड़ी के एक #फ्रेम में जड़वाकर घर में पूर्वी #दीवार पर लटकाएं।
  • घर के सदस्यों की #दीर्घायु के लिए #स्फटिक का बना हुआ एक #कछुआ घर में पूर्व दिशा में रखें।
  • घर को नकारात्मक #ऊर्जा से मुक्त रखने के लिए पूर्व दिशा में मिट्टी के एक छोटे से #पात्र में #नमक भर कर रखें और हर 24 घंटे के बाद नमक बदल दें।
  • अपने #ऑफिस में पूर्व दिशा में #लकड़ी से बनी #ड्रैगन की एक #मूर्ति रखें। इससे #ऊर्जा एवं #उत्साह प्राप्त होंगे ।