आखिर क्यों है खाने के बाद पानी पीना जहर ?

हम हमेशा से सुनते आये है कि खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए, खाने के दौरान पानी पीने से बचना चाहिए या पानी पीने के तुरंत बाद खाना भी सही नहीं है। यहां तक आयुर्वेद में भी खाना खाने के बाद पानी पीना जहर माना जाता है। उनके अनुसार खाना खाने के करीब आधा घंटा पहले पानी पी ले लेना चाहिए या खाना खाने के लगभग एक से दो घंटे के बाद पानी पीना चाहिए।

खाने के बाद पानी पीना सही या गलत?
प्राकृतिक पाचन प्रक्रिया में बाधा को रोकने के लिए भोजन करने के कम से कम एक घंटा तक पानी पीने से बचना चाहिए। खाने के बाद कुछ देर गैप करने से पोषक तत्वों के अवशोषण में भी मदद मिलती है।

खाने से पहले पानी नहीं पीना चाहिए। खाना खाने से पहले पानी पीना अच्‍छा है क्‍योंकि इससे पाचन प्रकिया में मदद मिलती है।

अन्‍य समस्‍या
जठराग्नि अमाशय की ऊर्जा है जो हमारे द्वारा खाएं जाने वाले खाने को पचाने का काम करती है। यह ऊर्जा हमारे भीतर होना बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि यदि धीरे-धीरे यह ऊर्जा समाप्त हो जाती है तो हमारे द्वारा ग्रहण किया गया भोजन पच नहीं पाता है। खाना नहीं पचने की वजह से वो अमाशय में ही सड़ने लग जाता है और इससे गैस, एसिड बनना शुरू हो जाता है।

हालांकि यह छोटी-छोटी समस्‍याएं है लेकिन धीरे-धीरे एक बड़ी तकलीफ को जन्म दे सकती हैं। रोजाना होने वाली गैस या एसिडिटी से पेट में बड़ा इंफेक्‍शन बन सकता है, जो जानलेवा भी हो सकता है।