#भवन के मुख्य #द्वार का #वास्तु

#भवन के मुख्य #द्वार का #वास्तु

#भवन के मुख्य #द्वार का #वास्तु

#भवन के #प्रवेश #द्वार में दो पल्लों का #दरवाजा #शुभ रहता है।

भवन के #मुख्यद्वार पर #ओम #मंगल #कलश, #मछली का जोड़ा, #स्वास्तिक का चिन्ह अवश्य स्थापित करना चाहिए।

भवन के मुख्य द्वार पर #तुलसी का #पौधा रखना चाहिए तथा नित्य प्रातःकाल #जल व #सांयकाल #घी का #दीपक अर्पित करना चाहिए। इससे #घर के सभी #सदस्यों में #आत्मविश्वास की बढ़ोतरी होती है।