परिजनों की किस दिशा में तस्वीरें लगाने से नहीं होगी कोई अनहोनी

वास्तुशास्त्र के हिसाब से अगर घर में तस्वीरें न लगी हो तो उसका असर हमारे जीवन में भी होता हैं। घर में लगी तस्वीरें यदि सही दिशा में न लगी हो तो ये आपके जीवन में सकारात्मक असर डालती है. और ऊर्जा प्रदान करती हैं, लेकिन यदि गलत दिशा में लगी हों तो घर को नकारात्मक ऊर्जो से भर देती हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर वालों की तस्वीर लगाने के लिए एक खास दिशा का प्रयोग ही किया जाना चाहिए। ऐसा करने से परिवार में प्यार बना रहता है। वास्तुशास्त्र की मानें, तो परिवार के सदस्यों की तस्वीर घर की उत्तर दिशा, पूर्व दिशा और उत्तर-पूर्व दिशा में ही लगानी चाहिए। यह तीनों दिशाएं परिवार के सदस्यों की तस्वीरें लगाने के लिए सही हैं। इसके अलावा किसी भी दिशा में परिवार के सदस्यों की तस्वीर नहीं होनी चाहिए। तस्वीरें लगाते वक्त इन बातों का रखे खासा ख्याल :- – भगवान के उग्र रुप या युद्ध करते हुए बनी तस्वीरें घर में लगाने से बचना चाहिए। इनके कारण भी घर के सदस्यों के बीच टकराव बढ़ने लगता है। – पूर्वज यानी घर के स्वर्गीय सदस्यों की तस्वीर उत्तर दिशा में लगाएं। इनकी तस्वीरें पूजा स्थल, मंदिर या अन्य दिशाओं में नहीं लगानी चाहिए। इससे घर में शांति रहेगी और पितृदोष नहीं लगेगा। – घर में हनुमान जी की तस्वीर सिर्फ पूजा स्थल पर ही लगानी चाहिए। घर के अन्य हिस्सों में लगाने अपवित्र होने पर आपकी नजरें तस्वीर पर पड़ेंगी तो उसका दोष लगेगा। जिससे घर में अशांति और तनाव बढ़ सकता है। – कुबेर की तस्वीर घर में नहीं लगानी चाहिए। ये धन के देवता तो हैं लेकिन ये यक्ष हैं। इनकी पूजा घर में नहीं करनी चाहिए।