वास्तु गुरु से जाने घर में समृद्धि लाने के उपाय

 

भारत में अपनी पहचान बनाने के साथ- साथ लंदन और अन्य देशों में भी अपने काम के लिए प्रसिद्द वास्तु कंसलटेंट श्री मनोज जैन वास्तु रीडर के साथ होलिस्टिक कोच, ऑरा रीडर, लाइफ कोच भी हैं । आइये जानते हैं कि वास्तु के इन उपायों से कैसे घर में समृद्धि का वास होगा ?

कड़ी मेहनत और प्रयासों के बाद भी जब समृद्धि आपसे दूर रहती है तो अपने घर के पर ध्यान देना आवश्यक होता है । हो सकता है कि आपकी समृद्धि की राह की रुकावट के लिए घर का वास्तु ही जिम्मेदार हो। अगर घर में वास्तु दोष है तो आप कुछ आसान उपायों के जरिए उन्हें दूर करके संपन्नता की राह पर आगे बढ़ सकते हैं।
1.अपने घर की तिजोरी को हमेशा दक्षिण और पश्चिम दीवार के करीब या इस दीवार की अलमारी में रखना चाहिए। इस दिशा में तिजोरी होने से उसके द्वार हमेशा उत्तर दिशा में खुलेगी। उत्तर भगवान कुबेर की दिशा है और उस दिशा में तिजोरी खुलने का अर्थ यही है कि धन के देव कुबेर उसे भरते रहेंगे। तिजोरी या धन की अलमारी को किसी भी अन्य दिशा में रखने से बचें।
2. तिजोरी के सामने आईना लगाना चाहिए। धन को बढ़ाने के लिए किए जाने वाले उपाय में इसको भी शामिल किया जा सकता है क्यूंकि जब भी कांच में आप धन को देखेंगे तो वह आपको हमेशा दुगुना नजर आएगा। इस से आपकी सकारात्मकता को बढ़ाने में सहायता मिलती है।
3.वैसे तो पूरे घर में ही सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए ताकि समृद्धि आपके घर में प्रवेश कर सके लेकिन उत्तर-पूर्व दिशा में किसी भी तरह का कचरा न हो इस बात का ख्याल रखना बहुत जरुरी है। इस हिस्से में सीढ़ियों के निर्माण और मशीनरी जैसी भारी चीजें रखने से बचना चाहिए।
4. घर या प्लॉट लेते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उत्तर-पूर्व दिशा में कोई ऊंची इमारत या मंदिर ना हो । अगर ऐसा होता है तो धन का नुकसान होता है। ऐसी स्थिति होने पर इसका बहुत ही ध्यान रखें कि उनकी छाया आपके घर या प्लॉट न गिरे।
5. छत में ढलान दक्षिण पश्चिम से उत्तर-पूर्व की तरफ होना चाहिए। घर बनाते समय इस बात का ध्यान रहे कि छत का उत्तर-पश्चिम हिस्सा थोड़ सा ऊंचा होना चाहिए।