अगर नकारात्मक ऊर्जाओं को करना है दूर,तो अपनाये ये उपाए

भारत से लेकर विदेशों तक अपने ज्ञान और उसके पीछे छिपे साइंटिफिक एप्रोच से लोगों की ज़िन्दगी में एक सकारात्मक बदलाव लाने वाले मनोज जैन अंधविश्वास को खत्म करना चाहते हैं , और हरबात के पीछे छिपे लॉजिक को आपके सामने रखते हैं,वास्तु कंसलटेंट श्री मनोज जैन वास्तु रीडर के साथ होलिस्टिक कोच, ऑरा रीडर, लाइफ कोच भी हैं.

वास्तुशास्त्र, दुनिया की प्राचीन विधाओं में से एक ऐसी विधा है, जिसका जन्म भले ही भारत में हुआ लेकिन आज की तारीख में बहुत से देशों ने इसे अलग-अलग नाम देकर स्वीकार कर लिया है।आपकी कुंडली आपके अतीत, भविष्य और वर्तमान के बारे में लगभग सब कुछ बताती है। लेकिन वास्तु गुरु मनोज जैन बताते है की ज्योतिष विद्या की एक अन्य शाखा वास्तुशास्त्र भी है । जिसका सीधा संबंध हमारे वातावरण में मौजूद नकारात्मक और सकारात्मक शक्तियों से है। मनोज जैन वास्तुशास्त्र के अनुसार कुछ ऐसे उपाय बताते हैं, जिनकी सहायता से हम अपने आसपास की नकारात्मक ऊर्जाओं को दूर कर सुख-शांति से जीवन जी सकते हैं।
हर परिवार जीवन के सभी उतार-चढ़ाव का सामना साथ मिलकर करता हैं । कोई भी यह कभी नहीं चाहेगा कि किसी भी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा उसके घर में प्रवेश करे। लेकिन जाने-अंजाने में हम कुछ ऐसा कर जाते हैं, कि नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश घर में होने लगता है। इस नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव इस प्रकार पड़ता हैं-
-घर में सबसे ज्यादा समय बिताने वाले शख्स (गृहणी या बुजुर्ग) को गुस्सा बहुत आता है।
-नकारात्मक ऊर्जा के कारण घर में कोई न कोई बीमार रहने लगता है।
-आपको ठीक से नींद नहीं आती है, जिसका असर परफॉर्मेंस पर पड़ता है।
-नकारात्मक ऊर्जा के कारण घर में सफाई कम, गंदगी ज्यादा रहती है। घर में कोई न कोई उपकरण, खराब रहता ही है।
-बच्चों की पढ़ाई ठीक से नहीं हो पाती, उनका मन पढ़ाई में नहीं लगता है।
– घर में रहने वालों के बीच रिश्ते अच्छे नहीं रहते हैं। घर में लड़ाई झगड़ा होता है।

आईये जानते है इन नकारात्मक प्रभावों को कम करने के लिए कुछ अचूक उपाए वास्तु गुरु मनोज जैन से
-हर रोज शाम को अगर साफ-सफाई करने के बाद अगर घर के बाहर दीया जलाते हैं तो नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश नहीं होता और बुरी आत्माएं दूर रहती हैं।
-घर का किचन यानी रसोई साउथ-ईस्ट में होनी चाहिये। अगर संभव नहीं है तो नॉर्थ-वेस्ट दूसरा सबसे अच्छज्ञ विकल्प है। गैस को ईस्ट या साउथ-ईस्ट दिशा में रखें।
-घर के बाहर नेमप्लेट लगाने के पीछे एक विज्ञान छिपा है। इससे घर के अंदर प्रवेश करने वाली सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव घर के मालिक के जीवन पर पड़ता है। उसे अच्छे अवसर प्राप्त होते हैं। नेमप्लेट, जितनी साफ और चमकदार होगी, नकारात्मक ऊर्जा उतनी दूर रहेगी। जिस घर की नेमप्लेट गंदी रहती है, वहां नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है।
-नकारात्म्क ऊर्जा ऊर्जा को दूर भगाने के लिये एक कांच के गिलास में पानी लें और उसमें एक नींबू डाल दें। इस पानी को हर शनिवार नियमपूर्वक बदलें। यह गिलास घर में सुविधानुसार कहीं भी रख सकते हैं।
– बाथरूम इस्तेमाल करने के बाद हमेशा उसका दरवाज़ा बंद रखे,बाथरूम के खुले दरवाज़े से घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश करती हैं।